देश सेवा का एक स्वर्णिम अवसर : अग्निपथ योजना

0
13

निकट भविष्य में देश में आपातकाल , सीमाओं पर युद्ध के संकेत/आसार नजर आ रहे हैं । देश में आंतरिक भीषण संग्राम के संकेत मिल रहे हैं । ऐसे में भारत सरकार के द्वारा तीनों संकटों से निपटने हेतु अग्नीपथ योजना सेना में 1000000 सैनिकों की भर्ती (शॉर्ट टर्म 4 वर्ष) के लिए एक अभिनव योजना हैं ।

इससे देश की सेनाओं को एकदम युवा सैनिक मिल सकेंगे जो देश की चुनौतियों का सामना करने में सक्षम होंगे एवं देश के 10 लाख युवाओं को रोजगार , देश सेवा का एक स्वर्णिम अवसर भी प्राप्त होगा ।

Image

4 साल पश्चात रिटायर होने के बाद यह सैनिक देश की किसी भी प्रकार की स्थिति को संभालने में सक्षम होंगे ; क्योंकि सैनिक प्रशिक्षण के दौरान इनको अनुशासन, ‘वे आफ लाइफ’ का प्रशिक्षण दिया जाएगा । वह देश के हित में दूरगामी परिणाम/फलदाई होगा ।

अतः यह योजना समाज ,राष्ट्र व युवाओं के उज्जवल भविष्य के लिए है । जो लोग इसका विरोध कर रहे हैं तो ऐसा लगता है कि – उन्हें देश से प्रेम नहीं, वह देश का भविष्य सुरक्षित नहीं करना चाहते । क्या वह देश में बेरोजगारी को कम करना नहीं चाहते? अथवा उनकी भविष्य के प्रति दृष्टि कमजोर है। अथवा यूं कहें कि इनमें राष्ट्रीय चिंतन का अभाव है।

देश के समाज को इस विषय में चिंतन करना चाहिए और देश के भटके हुए नौजवानों (बिहार क्षेत्र) को समझाना चाहिए । नौजबान (विहारि) देस के भविश्य से खिलवाड़ न करें, वक्त की नजाकत का समझे। अन्यथा समय वार – वार अवसर भी नही देता है ।

वैश्विक स्तर पर भारत की बढ़ती ख्याति , शक्ति , प्रगति , वर्चस्व को देखकर भारत से ईर्ष्या रखने वाली ताकते , भारत की प्रगति के मार्ग में निरंतर अवरोध खड़ा करते रहते हैं।

भारत का पड़ोसी शत्रु चीन नहीं चाहता कि मोदी सरकार भारत का चहु ओर विकास कर सके अत: देश के आंतरिक शत्रुओं के माध्यम से प्रगति के मार्ग में बार-बार अवरोध जैसे शाहीन बाग आन्दोलन, किसान आंदोलन , नमाजी हिंसा , ज्ञानवापी मामला , इत्यादि खड़ा करते रह्ते हैं । इन अवरोधो के चलते CAA , NRC अभी तक लांच नही हो पाया है ।

देश में आसुरी , अराष्ट्रीय शक्तियां चरम पर है एवं अपना विकराल रूप प्रकट कर रही हैं । ऐसे में देश की सज्जन शक्ति , प्रबुद्ध वर्ग , राष्ट्रभक्त नागरिक हाथ पर हाथ रखकर ना बैठे; अपने कर्तव्य/ धर्म को पहचाने और अराष्ट्रीय शक्तियों की दाल ना गलने दें । यही आज का राष्ट्रधर्म है, जिसे समाज को पहचानना चाहिए।

!!जागो भारत जागो!!