केवलारी- मामला सिवनी जिले के उगली थाना अंतर्गत आने वाले ग्राम पांडिया छपारा का है जहां पर विगत दिवस दिनांक 16/07/ 2021 दिन शुक्रवार को ईसाई धर्म के प्रचारक श्रीमती पुर्वांता बाई पति श्री गणेश पटले के यहां पहुंचे एवं उनकी बीमार बेटी को प्रार्थना कर पूर्ण स्वस्थ करने का आश्वासन दिया।

श्रीमती पटले ने आगे जानकारी देते हुए बताया कि ईसाई धर्म के प्रचारकों द्वारा उनका भरोसा जीत कर हिंदू देवी देवताओं के विषय पर अनर्गल टिप्पणी करने लगे एवं घर पर मौजूद सभी हिंदू देवी देवताओं की मूर्ति/चित्र को हटाने एवं उनके द्वारा उनकी मांग से सिंदूर हटाने के लिए भी दबाव बनाए जाने लगा, एवं उनके द्वारा कहा गया की यदि आपके द्वारा ऐसा नहीं किया गया तो आपकी बेटी स्वस्थ ना होकर उल्टा ओर बीमार हो जाएगी।

इसके बाद श्रीमती पटले द्बारा जब इस बात का विरोध किया गया तो उनके द्वारा उन्हें तरह-तरह के प्रलोभन देने की कोशिश भी की गई ,आपको बता दें कि घटना से आहत होकर उनके द्वारा अपने पड़ोसियों को आवाज दी गई सभी लोग इकट्ठा हो गए एवं उनका विरोध करना प्रारंभ कर दिया गया। घटना की जानकारी लगते ही जिले में सबसे सक्रिय सामाजिक संगठन धर्म रक्षा सेना के कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए उनके द्वारा उगली पुलिस को सूचना दी गई जिस पर थाना प्रभारी श्याम सुंदर भारद्वाज जी द्वारा मामले की गंभीरता को देखते हुए त्वरित कार्रवाई कर राजेंद्र कुड़ापे निवासी भरवेली , सुनील मरकाम निवासी परसवाड़ा, संतोष शिववंशी निवासी देवसर्र जिला बालाघाट एवं नारायण बर्मया निवासी भरवेली के खिलाफ आईपीसी की धारा 295 (ए) ,34 एवं मध्य प्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 की धारा 5 के तहत चार आरोपियों पर अपराध पंजीबद्ध कर उन्हें जेल भेज दिया गया। जबकि घटना में कुछ महिलाएं भी शामिल थी किंतु वह मौका पाकर भाग निकली। आपको बता दें कि उक्त कार्य में धर्म रक्षा सेना के प्रमुख स्वराज सिंह बघेल जी , संयोजन संजीत बघेल जी, सह संयोजक प्रवीण दुबे जी, राजा प्रजापति जी ,उगली भाजपा के मंडल अध्यक्ष संजय उइके जी एवं पूर्व भाजपा मंडल अध्यक्ष त्रियंबकशरण मिश्रा जी, पूनाराम चौधरी जी ,साकेत राज टेमरे जी, मोहित बिसेन जी, गोविंदा गोस्वामी जी, प्रवीण ठाकुर जी, अंशुल जैन जी, विवेक प्रजापति जी ,सुनील बिसेन जी, राघव बिसेन जी, शिवम शरणागत जी का विशेष योगदान रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here